How to cure back pain in cancer in Hindi – कैंसर में होने वाले कमर दर्द से छुटकारा कैसे पाएं? जानें 5 आसान उपाय

How to cure back pain in cancer in Hindi

How to cure back pain in cancer in Hindi : कैंसर के कारण रोगी के शरीर के कई हिस्सों में तेज दर्द होता है, जिसमें से पीठ दर्द भी एक है। यह पीठ दर्द सर्जरी या थेरेपी के कारण हो सकता है या इलाज के दौरान ली गई दवाओं के साइड इफेक्ट के रूप में भी हो सकता है। ज्यादातर मरीज बिस्तर पर होते हैं,

जिससे पीठ में दर्द हो सकता है। लंबे समय तक एक ही स्थिति में रहने से नसों पर दबाव पड़ता है और दर्द हो सकता है। कैंसर का आकार भले ही छोटा हो, लेकिन यह रीढ़ की हड्डी या नसों पर दबाव के कारण पीठ दर्द का कारण बन सकता है।

जरूरी नहीं कि हर तरह के कैंसर में दर्द हो, लेकिन कुछ मरीजों को दर्द महसूस होता है। इस लेख में हम कैंसर के दौरान होने वाले पीठ दर्द को दूर करने के आसान तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस विषय पर बेहतर जानकारी के लिए हमने एक्सपर्ट से बात की है।

How to cure back pain in cancer in Hindi

1. स‍िकाई करने से म‍िलेगा आराम 

How to cure back pain in cancer in Hindi
How to cure back pain in cancer in Hindi

कमर में दर्द होने पर आप मरीज की स‍िकाई कर सकते हैं। ऐसा करने के लिए आप नमक या चावल को (भूनकर ) मोजे या साफ कपड़े में बांधकर पोटली बना लें, फिर दर्द वाली जगह पर रख दें तो दर्द दूर हो जाएगा, इसे हीट थेरेपी कहते हैं।

2. अदरक दूर करेगा कमर दर्द

कैंसर के कारण होने वाले दर्द को न्यूरोपैथिक दर्द के रूप में जाना जाता है। यह दर्द नसों या रीढ़ की हड्डी पर दबाव के कारण होता है और नसों को प्रभावित कर सकता है। ऐसे पीठ दर्द में झुनझुनी, सूजन, तेज दर्द हो सकता है। कमर दर्द से राहत पाने के लिए आप अदरक की चाय मरीज को दे सकते हैं, अदरक का उपयोग पुरानी मांसपेशियों (क्रॉन‍िक मसल्‍स) या जोड़ों (ज्‍वॉइंट ) के दर्द को ठीक करने के लिए किया जाता है।

3. हल्दी भी है फायदेमंद

दर्द कीमोथेरेपी, रेडियोथेरेपी या सर्जरी के कारण भी दर्द हो सकता है। कैंसर के इलाज में जब कोई अंग निकाल भी दिया जाता है तो शरीर के अलग-अलग हिस्सों में दर्द की समस्या हो जाती है, जिसमें से एक कमर दर्द भी होता है।

बैक पेन की समस्या को दूर करने के लिए रोगी को हल्दी वाला दूध पिलाएं, हल्दी में जलनरोधी (एंटी-इंफ्लामेटरी) गुण होते हैं, जिससे दर्द होगा और मरीज को आराम मिलेगा। अगर मरीज दवा ले रहा है तो डॉक्टर की सलाह पर आप दवा देने के 2 घंटे पहले या बाद में दूध दे सकते हैं।

4. पर्याप्त पानी पिएं

कमर दर्द की समस्या हो तो मरीज को पर्याप्त मात्रा में पानी दें। पानी पीने से शरीर हाइड्रेट रहेगा। शरीर में ऊर्जा की मौजूदगी से दर्द की समस्या नहीं होगी। इसके अलावा यदि रोगी चल-फिर सकता है तो उसे वॉक जरूर करवाएं, दिन भर कोई शारीरिक हलचल (फ‍िजिकल मूवमेंट) न होने के कारण कमर में दर्द हो सकता है। यदि मरीज बाहर नहीं टहल सकता है, तो उसे कमरे में टहलने के लिए कहें।

5. मसाज (माल‍िश ) करने से दूर हो जाएगा कमर दर्द

How to cure back pain in cancer in Hindi
How to cure back pain in cancer in Hindi

अगर कैंसर हड्डी के ट‍िशू (ऊतकों) तक फैल गया है, तो कमर दर्द की समस्या हो सकती है। इस तरह के दर्द का इलाज सिर्फ डॉक्टर ही करते हैं, लेकिन आप हल्के दर्द के लिए आसान उपाय अपना सकते हैं। कमर दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप मसाज (मालिश) कर सकते हैं।

मसाज (मालिश) के लिए सरसों के तेल में लहसुन की 5 से 6 कलियां गर्म करके तेल से मालिश करें, आराम मिलेगा। कैंसर कैल्शियम की कमी, वजन बढ़ने या लंबे समय तक लेटे रहने से भी कमर दर्द हो सकता है, इसलिए इसका इलाज कराने के लिए सबसे पहले इसका कारण पता करें, ज्यादा दर्द होने पर डॉक्टर से सलाह लें और दवा या थेरेपी के लिए सलाह लें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.