बालायाम योग के फायदे – Balayam Yoga Benefits in Hindi

Balayam Yoga Benefits in Hindi

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योगासन बहुत ही जरूरी होता है। योगासन करने से हमारे शरीर की बहुत समस्याएं दूर होती हैं। शरीर के लिए अलग – अलग हिस्सों के लिए अलग – अलग योगासन किए जाते है। और बालों के लिए बालायाम योग (Balayam Yoga) बहुत अच्छा होता है,

बालायाम योग (Balayam Yoga) को करने के लिए घर से बाहर जाने की जरूरत नहीं है। आप घर में बैठे-बैठे और ऑफिस का काम करते-करते बालायाम योग कर सकते हैं। इस योग की मदद से आपके बाल स्वस्थ और चमकदार होते हैं। इसके अलावा यह शरीर को स्वस्थ रखने में आपकी मदद करता है।

इस योग को करने से बाल काले हो जाते हैं। नाखूनों को रगड़ने (Nail Rubbing) की प्रक्रिया को बालायाम योग कहा जाता है। और आज हम इस आर्टिकल में बालायाम योग के फायदे (Balayam Yoga Benefits in Hindi) और करने का तरीका जानेंगे।

बालायाम योग क्या है – What is Balayam in Hindi

दुनिया के अधिकांश हिस्सों में, बालायाम योग को बालों के विकास के लिए नेल रबिंग एक्सरसाइज या नेल एक्सरसाइज (Nail Exercise) या हेयर फॉल के इलाज के लिए नेल एक्सरसाइज के रूप में जाना जाता है। बालायाम दो अलग-अलग शब्द को मिलाकर बना है। जिसमें पहला शब्द बाला यानी बाल और दूसरा व्यायाम है।

यही वजह है कि इसे बालों का ‘व्यायाम” कहा जाता है। यह बालों को स्वस्थ रखने के लिए व्यायाम है। नाखून रगड़ना (Nail Rubbing) व्यायाम बालों के विकास के लिए एक वैकल्पिक रिफ्लेक्सोलॉजी थेरेपी (reflexology therapy) है

जिसमें एक समान मात्रा में बल के साथ दोनों हाथों के नाखूनों को रगड़ना शामिल है। इसे बालों को बढ़ाने वाले योग में शामिल किया जाता है।

बालायम योग कैसे काम करता है?

बालायम योग गंजेपन को कम करने के लिए फायदेमंद होता है और बालों के विकास में भी मदद करता है। इसके अलावा, यह बालों के झड़ने और समय से पहले बालों को सफेद होने से रोकता है। ऐसा माना जाता है कि नाखूनों के नीचे कुछ तंत्रिका-अंत है, इसलिए, जब आप नाखूनों को रगड़ते हैं तो यह आपके मस्तिष्क को मृत हेयर फॉलिकल्स को पुनर्जीवित करने के लिए एक संकेत भेजने के लिए उत्तेजित करता है।

बालायाम योग के फायदे – Balayam Yoga Benefits in Hindi

बालायाम योग करने के कुछ फायदे इस प्रकार है :

1. सफेद बालों के लिए फायदेमंद

बालायाम योग असर सफेद बालों पर दिखाई दे सकता है। एक रिसर्च में बालों से जुड़ी समस्याओं के लिए कई योगो को शामिल किया गया है, जिसमें बालायाम योग का भी नाम है। हालांकि, इस समस्या के लिए अकेला बालायाम कितना कारगर होगा, फिलहाल, इसको लेकर अभी और शोध आवश्यकता है।

2. झड़ते बालों के लिए फायदेमंद

How to Stop Hair Fall in Hindi

योग का अभ्यास स्कैल्प के रक्त प्रवाह (Blood circulation) को बनाए रखने में मदद कर सकता है जिससे झड़ते बालों की समस्या से आराम मिल सकता है। वहीं, योग को केशविकार (जिसमें बाल झड़ना भी शामिल है) के लिए भी उपयोगी माना गया है। वहीं, इस शोध में केशविकार के लिए जिन योगासनों का जिक्र किया गया है, उनमें बालायाम भी शामिल है। बाल झड़ने की समस्या में बालायाम योग काफी मदद करता है।

इसे भी पढे – बालों को झड़ने से रोकने के उपाय और इलाज – How to Stop Hair Fall in Hindi

3. गंजेपन के लिए फायदेमंद

बालायाम योग का नियमित अभ्यास करने से बाल झड़ने की समस्या को नियंत्रित किया जा सकता है। और यह योग गंजेपन से बचाव करने में मदद कर सकता है। दरअसल, गंजेपन की समस्या बालों के अधिक झड़ने के कारण होती है। वहीं, समय से पहले अगर बाल झड़ने की समस्या को नियंत्रित कर लिया जाए, तो गंजेपन का जोखिम कम हो सकता है।

4. बालों की मजबूती के लिए फायदेमंद

hair

बालायाम योग को करने पर बालों को मजबूती मिल सकती है। दरअसल, एक शोध में केशविकार के लिए अन्य योगासनों के साथ बालायाम का भी जिक्र मिलता है। वहीं, शोध में केशविकार में कमजोर बालों का भी जिक्र है। बालायाम का अभ्यास बालों को मजबूती भी प्रदान कर सकता है।

5. बालों की चमक के लिए फायदेमंद

बालायाम योग करने से बालों की मजबूती तो बढ़ती ही है। और साथ ही नियमित रूप से बालायाम योग करने पर बालों में एक नई चमक आ जाती है। फिलहाल, इस बात की पुष्टि होना बाकी है।

बालायाम योग के अन्य फायदे – Balayam Yoga Other Benefits in Hindi

  • नेल रबिंग योग बालों को प्राकृतिक रूप से वृद्धि में मदद करता हैं।
  • यह योग आपके बालों को ग्लो और शाइन देता हैं।
  • बालायाम योग हमारे बालों को बहुत फायदा पहुंचाता है। बालायाम हमारे बालों को वापस उगाने में पूरी तरह मदद करता है।
  • इस योग को रोजाना करने से तनाव काफी हद तक दूर होता है और यह मन को शांत और खुश रखता है।
  • बालायाम योग करने से पूरी बॉडी में ब्‍लड सर्कुलेशन बेहतर हो जाता है जिससे चेहरे पर ग्‍लो आता है।
  • यह आपके बालों को काला करके सफ़ेद बालों की समस्या से छुटकारा दिलाता है।
  • बालायाम योग बाल झड़ने की समस्या का इलाज करने में मदद करता है।
  • यह गंजापन और अन्य वंशानुगत बालों की समस्याओं के इलाज के लिए भी जाना जाता है।
  • यह योग आपके बालों की जड़ को मजबूत करता है और बालों का गिरना भी रोकता है।
  • इस योग से बालों की वॉल्यूम बढ़ती है। साथ में इसे करने से आपके बाल जल्दी सफेद नहीं होते।
  • इस योग को करने के लिए कोई विशेष तैयारी करने की आवश्यकता नहीं है।
  • यह दिन के किसी भी समय और किसी भी स्थान पर किया जा सकता है।
  • नाखूनों को रगड़ना एक नि: शुल्क रिफ्लेक्सोलॉजी या एक्यूप्रेशर चिकित्सा है।
इसे भी पढे – रूसी (डैन्ड्रफ) – Dandruff in Hindi

बालायाम योग करने का तरीका – Steps to do Balayam in Hindi

  • बालायाम योग के लिए सबसे पहले एक योगा मैट पर सुखासन की मुद्रा बैठ जाएं।
  • योग शुरू करने से पहले अपने मन से नकारात्मक विचारों को निकालें और मन को पूरी तरह से शांत करें।
  • मन शांत करने के लिए तीन-चार बार लंबी सांस लें और धीरे धीरे छोड़ें। 
  • अब अपने हाथों को छाती की ओर लाएं। 
  • अब अपने हाथों की उंगलियों को अंदर की ओर मोड़ें और अर्ध मुट्ठी बनाएं।
  • अब दोनों हाथों की उंगलियों के नाखूनों को एक-दूसरे से मिलाएं। 
  • अब दोनों हाथों को नाखूनों को आपस में रगड़ें।
  • इस समय सामान्य रूप से सांस लेते और छोड़ते रहें।
  • बालायाम योग को 8 से 10 मिनट तक कर सकते हैं। बीच में जरूरत अनुसार कुछ सेकंड का आराम भी ले सकते हैं।
  • ध्यान रहे कि नाखूनों को ज्यादा तेज ना रगड़ें। आराम-आराम से नाखून रगड़ें, इससे नेल्स के नाखूनों की नसों के बीच अच्छे से घर्षण होगा। 

बालायाम योग के लिए कुछ सावधानियां – Precautions for Balayam Yoga In Hindi

Balayam Yoga Benefits in Hindi
  • थोड़ा धैर्य रखें – बालायाम करते समय बालों का दोबारा बढ़ना या बालों का झड़ना कम करने की प्रक्रिया में कुछ समय लगता है और परिणाम धीरे-धीरे सामने आते हैं, इसलिए आपको थोड़ा धैर्य रखना होगा।
  • एक हाथ फिक्स और दुसरा रगड़ें – अगर आप एक हाथ के नाखूनों को ठीक रखते हैं और दूसरे हाथ के नाखूनों को रगड़ते हैं, तो कान के पास के बाल तेजी से बढ़ सकते हैं।
  • सर्जिकल स्थितियों से निपटना – जैसे एंजियोग्राफी, एपेंडिसाइटिस, आदि (रक्तचाप में वृद्धि से स्वास्थ्य संबंधी जटिलताएं हो सकती हैं)।
  • उच्च रक्तचाप के रोगी – शायद यह हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।
  • गर्भावस्था के दौरान – गर्भवती महिलाओं को भी गर्भावस्था के दौरान यह योग नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह गर्भाशय के संकुचन और उच्च रक्तचाप का कारण बन सकता है।
  • जिनका उच्च रक्तचाप और उच्च रक्तचाप का इतिहास है (क्योंकि यह रक्तचाप को बढ़ाता है)।
  • त्वचा या नाखून के संक्रमण, घावों, या पीड़ादायक और/या रोगग्रस्त या नाज़ुक नाखूनों से पीड़ित (क्योंकि इससे आपकी स्थिति और खराब हो सकती है)।

बालायाम योग को कब करना चाहिए – When we should do Nail Rubbing Exercise in Hindi

बालायाम योग को कब करना चाहिए आइये इसे जानते हैं। सभी योगासन की तरह ही बालायाम योग को करने का सबसे अच्छा समय, सुबह और शाम का होता है। एक बात हमें याद रखनी चाहिए कि किसी भी योग आसन या एक्यूप्रेशर चिकित्सा से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए हमें इसे खाली पेट करना चाहिए। बालायाम एक ऐसा योग है जिसे आप टीवी देखते समय या अपनी पसंद के गाने सुनते हुए भी इस एक्सरसाइज को कर सकते हैं।

बालायाम योग कितनी देर करना चाहिए – How much time should I do Balayam Yoga in Hindi

बालायाम योग (Balayam Yoga) समय जानने के बाद इस बात को भी जानना जरूरी है कि इसे कितनी देर तक किया जाए। बालायाम (Balayam Yoga) को रोजाना 8 से 10 मिनट तक किया जा सकता है। वहीं, इसे करते वक्त आराम लेने की जरूरत महसूस हो, तो कुछ सेकंड का आराम एक-दो बार ले सकते हैं।

बालायाम योग के साइड इफेक्ट – Side Effect of Balayam Yoga in Hindi

बालायाम योग शून्य साइड इफेक्ट के साथ आता है। इसे करने से किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य या मानसिक समस्या या कोई भी विकार नहीं होता हैं। हालाँकि नाखूनों को अत्यधिक और जबरदस्ती रगड़ना आपके नाखूनों को संभावित रूप से नुकसान पहुंचा सकता है। और इसके अलावा इस योग का कोई साइड इफेक्ट नहीं है।

उम्मीद करते है कि यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। और साथ ही यह भी अच्छी तरह पता चल गया होगा कि इसे किस प्रकार किया जाना चाहिए। अब आप चाहें, तो बाल झड़ने की समस्या के लिए इसका रोजाना अभ्यास कर सकते हैं। वहीं, बालायाम के नुकसान से बचने के लिए बालायाम करने से जुड़ी सावधानियों को ध्यान में रखना भी जरूरी है। इस जानकारी को अपने दोस्तों और अपने परिवार के साथ जरूर शेयर करें, ताकि उन सभी तक ये जानकारी पहुँच सकें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *