नारियल पानी के फायदे, उपयोग और नुकसान – Benefits Coconut Water in Hindi

Benefits Coconut Water in Hindi

इस बेतहाशा गर्मी में हर कोई परेशान रहता है। गर्मी के मौसम में जब शरीर को तरल पदार्थों की जरूरतें बढ़ जाती हैं। तो ऐसे में नारियल पानी पीने की विशेष रूप से सलाह दी जाती है। नारियल पानी में प्राकृतिक रूप से मिठास होता है इसलिए यह स्वाद में मीठा लगता है। इसमें बहुत से विटामिन और खनिज भी पाए जाते है,

  नारियल में विटामिन, पोटैशियम, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिन और खनिज तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। यही वजह है कि नारियल हमारी सेहत के लिए काफी अच्छा साबित होता है। ये सबसे अच्छी बात है कि नारियल में वसा और कॉलेस्ट्रॉल नहीं होता है।

और नारियल अपनी इसी खूबी के चलते मोटापे को कम करता है। नारियल कई बीमारियों के इलाज में काम आता है। प्रतिदिन एक नारियल का पानी आपके शरीर को हाइड्रेट रखने में मदद करता है और जरूरी ग्लूकोज की आपूर्ति करता है।

नारियल पानी के फायदे – Benefits Coconut Water in Hindi

नारियल पानी एक बहुत एक स्वादिष्ट और कम कैलोरी वाला ताजा प्राकृतिक पेय है, पूरी दुनिया में हर उम्र के लोग इसे पीते हैं। गर्मियों के दिनों में इसका सेवन आपके बॉडी के तापमान को सामान्य बनाएं रखता है और आपको शीतलता देता है। नारियल पानी शरीर में एक स्वस्थ पीएच बहाल करने में मदद करता है।

यह अम्लता और पेट की जलन की वजह से अम्लीय पीएच स्तर को बनाए रखने में मदद करता है। नारियल पानी के फायदे सेहत, त्वचा व बालों को बेहतर बनाए रखने में मदद करता है, जिसके बारे में इस आर्टिकल में विस्तार से बताया गया है। 

1. हैंगओवर से छुटकारा दिलाने में फायदेमंद

अधिकतर शराब पीने के बाद लोगो को सुबह थकान एवं बैचेनी होने लगती है, जिसे हैंगओवर कहा जाता है, इसका सीधा कारण शरीर में पानी की कमी होना। ज्यादा शराब का सेवन करने से शरीर में पानी की मात्रा कम होती है। वही, नारियल पानी हैंगओवर उतारने के लिए एक बहुत ही अच्छा प्राकृतिक उपाय माना गया है।

एक वैज्ञानिक अध्ययन में पाया गया कि नारियल पानी के इस्तेमाल से एंटी हैंगओवर ड्रिंक बनाई जा सकती है। वैज्ञानिक अध्ययन में कहा गया है कि इस ड्रिंक में नाशपाती (65%), मौसमी (25%) और नारियल पानी (10%) का उपयोग करके नशा कम करने वाला पेय बनता है। 

2. इम्यून सिस्टम बेहतर करने में फायदेमंद

Immunity

नारियल पानी इम्यून सिस्टम यानी रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनाने में मदद करता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स इम्यून फंक्शन को बेहतर बनाते हैं, जिसकी कारण शरीर जल्दी बीमारियों की चपेट में आने से बचता है।

प्रति 100 ग्राम नारियल पानी में करीब 2.4 एमजी विटामिन-सी होता है। विटामिन-सी शरीर में एंटीबॉडी का निर्माण करता है, जो विभिन्न बीमारियों से लड़ने में रोग प्रतिरोधक प्रणाली की मदद करता है। साथ ही नारियल पानी शरीर से टॉक्सिन व जीवाणुओं को बाहर निकालने में मदद करता है।

नारियल पानी में जिंक भी पाया जाता है, जो इम्यून सिस्टम के लिए एक जरूरी न्यूट्रिएंट माना गया है। इसीलिए नारियल पानी को बेहतर इम्यून सिस्टम करने वालों की लिस्ट में शामिल किया गया है।

इसे भी पढे – How to boost Immunity System – इम्यूनिटी सिस्टम कैसे बढ़ाए

3. पीलिया में फायदेमंद

पीलिया रोग को दूर करने में नारियल पानी के फायदे अनेक हैं। हमने ऊपर पढ़ा कि नारियल पानी पीने से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। एक्सपर्ट्स की माने तो पीलिया के रोगी को प्रतिदिन 2 हरे नारियल का पानी पीना चाहिए। यहां ध्यान रखने वाली बात यह है

कि नारियल तुरंत खोल कर तुरंत ही पानी पीना है, इसको ज्यादा देर तक रखना नहीं है। नारियल पानी के सेवन से एक दिन बाद ही यूरिन का कलर बदलना शुरू हो जाएगा। ऐसा 4-5 दिन करने के बाद पीलिया रोगी बिलकुल स्वस्थ अनुभव होता है।

4. रक्तचाप में फायदेमंद

नारियल पानी रक्तचाप को नियंत्रित करने भी गुणकारी माना गया है। कई शोधों में  यह बात साबित भी हुई है। उच्च रक्तचाप वाले लोगों पर किए गए एक अध्ययन की मानें, तो नारियल पानी सिस्टोलिक रक्तचाप (रक्तचाप के ऊपर की संख्या) में सुधार करता है।

इसके अतिरिक्त, कोकोनट वाटर में एंटीथ्रोम्बोटिक गुण होते हैं, जो रक्त के थक्के बनने नहीं देते है, जिससे रक्तचाप नियंत्रित रहता है। एक अन्य शोध में भी कहा गया है कि नारियल पानी का सेवन करने से उच्च रक्तचाप वालों के ब्लड प्रेशर में 5 प्रतिशत तक की कमी आ सकती है।

5. पाचन में फायदेमंद

Digestion

नारियल पानी पीने के फायदे में पाचन स्वास्थ्य भी शामिल है। जैसे ही पाचन खराब होता है तो गैस, एसिडिटी व कब्ज जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन सभी दिक्कतों को नारियल पानी से दूर किया जा सकता है। एक रिसर्च में बताया गया है

कि यह कब्ज के साथ अन्य सभी पाचन संबंधी परेशानियों से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। इसके परिणाम स्वरूप शरीर में खाना अच्छे से पचता है। शरीर में नारियल पानी पहुंचते ही यह डाइजेशन टॉनिक की तरह काम करता है।

6. गर्भावस्था में फायदेमंद

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कई तरह के पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। पोषक तत्वों की ज़रूरत न केवल उस गर्भवती महिला के लिए होती है बल्कि उसके गर्भ में पल रहें बच्चे की सेहत के लिए भी जरूरी होता है। ऐसे में नारियल पानी एक प्राकृतिक और पोषक तत्वों से भरपूर पेय है

जो उस गर्भवती महिला की पोषण से जुड़ी कई ज़रूरतो को पूरा करने में सहायक होता है। गर्भावस्था में नारियल पानी के सेवन से सुबह जी मिचलाना (मॉर्निग सिकनेस), कब्ज और थकान दूर करने में मदद मिलती है, इसके अलावा यह प्रतिरोधक क्षमता को सुधारने और शरीर में पानी की कमी को दूर करने में भी उपयोगी है।

नारियल पानी पीने से शरीर में रक्त की मात्रा को बढ़ाने, मूत्र मार्ग के संक्रमण को दूर करने और रक्तचाप को कम करने में भी बेहद मदद करता है।

7. आंखों के लिए फायदेमंद

Burning eyes causes

आंखों को स्वस्थ और सेहतमंद रखने के लिए भी नारियल पानी को लाभकारी माना गया है। आंखों में होने वाली जलन और दर्द से छुटकारा पाने के लिए प्राचीन काल से नारियल पानी का उपयोग किया जा रहा है। इसके अलावा, नारियल पानी से आंखों के लिए आयुर्वेदिक दवा भी बनाई जाती है।

नारियल पानी में पाए जाने वाले विटामिन-सीको आंखों के लिए जरूरी माना गया है। एनसीबीआई की शोध के अनुसार, विटामिन-सी की मात्रा शरीर में कम होने से मोतियाबिंद होने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में नारियल पानी का सेवन करने से मोतियाबिंद के जोखिम से बचा जा सकता है। मोतियाबिंद से बचाव के संबंध में नारियल पानी पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

इसे भी पढे – आंखों में जलन के कारण एवं 5 इलाज – Burning eyes causes

8. याददाश्त में फायदेमंद

कई वैज्ञानिक अध्ययनों में यह साबित हुआ है कि नारियल पानी में ग्लूटामाइन (एमिनो एसिड) होता है। यह दिमागी विकास में मदद करता है। नारियल पानी याददाश्त को भी बेहतर करता है। इसके अलावा, नारियल पानी में ट्रांस-जेटिन (पौधों का डिवेलपमेंट हार्मोन) भी होता है,

जो मस्तिष्क संबंधी समस्या (cognitive dysfunction) जैसे एकाग्रता व स्मृति को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। नारियल पानी डिमेंशिया में भी सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। डिमेंशिया एक प्रकार का सिंड्रोम होता है, जिसमें याददाश्त, सोच, व्यवहार और रोजमर्रा की गतिविधियों की क्षमता में गिरावट आती है।

9. गुर्दे के रोगों को दूर करने में फायदेमंद

नारियल पानी एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक के रूप में कार्य करता है। इस प्रकार, यह मूत्र उत्पादन और उसके प्रवाह को बढ़ावा देकर विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालता है। यह मूत्र मार्ग में संक्रमण जैसी समस्याओं को भी रोकने में मदद करता है।

नारियल पानी में मौजूद उच्च मिनरल, मैग्नीशियम और पोटेशियम सामग्री के कारण यह गुर्दे में होने वाली पथरी के खतरे को कम कर सकता है। इसके प्रभाव को बढ़ाने के लिए, एक कप नारियल पानी में समुद्री नमक की एक चुटकी मिलाएँ और दिन में एक या दो बार इसे पिएं। इसकी मूत्रवर्धक गुणों के अलावा, नारियल पानी में एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं।

नोट: यदि आपके गुर्दे ठीक ढंग से काम नहीं करते हैं और आप में पोटेशियम का स्तर उच्च है तो आपको रोजाना नारियल पानी नहीं पीना चाहिए।

10. हड्डियां मजबूत बनाने में फायदेमंद

नारियल पानी के गुण में हड्डियों को मजबूत बनाना भी शामिल है। नारियल पानी में कैल्शियम, मैग्निशियम और फास्फोरस जैसे हड्डियों के लिए जरूरी माने जाने वाले पोषक तत्व पाए जाते हैं। इस विषय पर हुए विभिन्न शोधों में पाया भी गया है कि नारियल पानी हड्डियों के लिए लाभकारी है। नारियल पानी हड्डियों के चयापचय यानी बोन मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है।

11. त्वचा के लिए फायदेमंद

glowing skin

त्वचा (स्किन) के लिए भी नारियल पानी के कई फायदे हैं। एक वैज्ञानिक शोधअनुसार नारियल पानी को त्वचा पर लगाने से मुंहासे निकालने की समस्या को कम किया जा सकता है। और साथ ही नारियल पानी त्वचा को बढ़ती उम्र के लक्षण जैसे झुर्रियां से बचाने में भी मदद कर सकता है।

नारियल पानी त्वचा पर पड़ने वाले स्ट्रेच मार्क्स को भी कम करने में मदद करता है। माना गया है कि नारियल पानी एग्जिमा यानी कि त्वचा पर होने वाली खुजली और लालिमा जैसी समस्या से राहत दिला सकता है। नारियल पानी के फायदे त्वचा (स्किन) के दाग-धब्बों को कम करने में भी शामिल है।

दरअसल, कई रिसर्चों में यह साबित हुआ है कि विटामिन-सी के प्रयोग से पिगमेंटेशन को कम किया जा सकता है और नारियल पानी में विटामिन-सी भरपूर मात्रा में होता है।

12. वजन कम करने में फायदेमंद

reduce weight

नारियल पानी पीकर अधिक वजन वाले लोग मोटापे को कंट्रोल कर सकते हैं। क्योंकि नारियल पानी में कैलोरी की मात्रा कम होती है, जो वजन घटाने के लिए बेहद जरूरी होती है। नारियल पानी पीने से पेट भरा हुआ मालूम होता है, जबकि अन्य ड्रिंक के साथ ऐसा नहीं है। दरअसल, नारियल पानी में डाइटरी फाइबर होता है।

फाइबर शरीर में धीरे-धीरे हजम होता है, जिस कारण जल्दी भूख भी नहीं लगती। डायटरी फाइबर की मात्रा बढ़ाने से वजन बढ़ने का खतरा भी कम होता है, लेकिन इस बात का ध्यान रहे कि इसके साथ ही शारीरिक व्यायाम की भी आवश्यकता है।

एक शोध में साल 2016 की रिपोर्ट का जिक्र है, कि नारियल पानी विनेगर उच्च वसा और उच्च-फ्रुक्टोज आहार वाले पशुओं में लेप्टिन के स्तर को कम करके चयापचय क्रिया को सक्रिय करने में मदद करता है। इससे  एडिपोज टिशू (बॉडी फेट) मास कम हो सकता है।

साथ ही यह शरीर में एंटी-ओबेसिटी के प्रभाव को भी बढ़ाता है। इसी शोध में यह भी कहा गया है कि 10 हफ्ते तक नारियल पानी से बना सिरका का सेवन करने से चूहों का वजन कंट्रोल हुआ।

इसे भी पढे – वज़न घटाने के लिए 10 एक्‍सरसाइज – Exercise For Weight Loss

13. तनाव से राहत दिलाने में फायदेमंद

stress

आजकल कई लोग ऑफिस के काम से लेकर घर की उलझनों की वजह से तनाव ग्रस्त हो जाते हैं। तनाव से निपटने में भी नारियल पानी फायदेमंद है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध एक शोध के अनुसार डाइट में नारियल पानी और नारियल को शामिल करने से न्यूरोलॉजिकल विकार को कम करने में मदद मिल सकती है।

नारियल पानी मूड को लाइट करके स्ट्रेस लेवल को घटा सकता है। शोध में कहा गया है कि 300 ml नारियल पानी दिन में दो बार लेने के साथ ही अन्य जूस का सेवन करने और लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करके तनाव को कम किया जा सकता है।

इन सभी बदलावों में योग करना, हरी सब्जियों व ताजे फलों का सेवन करना और सेकंड-हैंड स्मोकिंग (बिना धूम्रपान के शरीर में पहुंचने वाला धुआं) से दूर रहने की सलाह को भी शामिल किया गया है।

14. बालों के लिए फायदेमंद

hair

नारियल पानी बालों के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना गया है। एलोपेशिया जैसी समस्या यानी गंजेपन से जूझ रहे लोगों को नारियल पानी जरूरी पोषक तत्व प्रदान करता है। नारियल पानी की मदद से गंजेपन की समस्या से काफी हद तक बचा जा सकता है। नारियल पानी में प्रोटीन और जिंक जैसे पोषक तत्व भी पाए जाते हैं, जो बालों को स्वस्थ बनाए रखने और झड़ने से रोकने के लिए बेहद जरूरी माने गए हैं।

15. हाइपोथायराइडिज्म

थायराइड ग्रंथि के पर्याप्त हार्मोंस का निर्माण न करने की स्थिति को हाइपोथायराइडिज्म कहा जाता है। माना जाता है कि नारियल पानी में स्वस्थ वसा की मात्रा ज्यादा होती है, इसलिए नारियल पानी मेटाबॉलिज्म रेट को बेहतर करके वजन कम करने में मदद कर सकता है।

नारियल पानी में ग्लूकोज, एमिनो एसिड व इलेक्ट्रोलाइट जैसे गुण भी पाए जाते हैं, जिस कारण से नारियल पानी शरीर में ऊर्जा का स्तर बेहतर कर सकता है। साथ ही नारियल पानी आंतों की कार्यप्रणाली को बेहतर कर सकता है।

नारियल पानी से हाइपोथायराइडिज्म में सुधार हो सकता है। हालांकि, इसको लेकर किसी तरह का कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है। इसीलिए हाइपोथायराइडिज्म के लिए नारियल पानी के उपयोग से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

नारियल पानी में मौजूद पोषक तत्व – Coconut Water Nutritional Value in Hindi

  • पानी – 98 ग्राम 
  • डाइटरी फाइबर – 1.5 ग्राम 
  • मैग्नीशियम – 30 मिलीग्राम 
  • विटामिन-सी – 2.5 मिलीग्राम 
  • शुगर – 2.61ग्राम 
  • सोडियम – 105 मिलीग्राम 
  • पोटैशियम – 250 मिलीग्राम 
  • कैल्शियम – 25 मिलीग्राम 
  • विटामिन-सी – 2.4 mg
  • पैंटोथेनिक एसिड – 0.043 mg
  • राइबोफ्लेविन – 0.057 mg
  • नियासिन – 0.08 mg
  • फोलेट – 3 µg
  • थियामिन – 0.03 mg
  • विटामिन-बी – 6 0.032 mg
  • फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड – 0.176 g
  • कोलाइन – 1.1mg

नारियल पानी का उपयोग – Uses of Coconut Water in Hindi

नारियल पानी हर समय मिलता है और नारियल पानी कभी भी पिया जा सकता है। फिर भी अगर इसे पीने के सही समय का ख्याल रखा जाए, तो नारियल पानी के फायदे अधिक हो सकते हैं।

Benefits Coconut Water in Hindi
  1. सुबह : नारियल पानी का सेवन सुबह के समय खाली पेट अच्छा माना गया है। मन जाता है कि खाली पेट नारियल पानी के फायदे और अधिक होते हैं। इससे शरीर को नई ऊर्जा मिलती है। हालांकि, खाली पेट नारियल पानी के फायदे के बारे में स्पष्ट प्रमाण मौजूद नहीं है।
  2. एक्सरसाइज से पहले व बाद में : एनर्जी ड्रिंक की तरह भी नारियल पानी को पिया जा सकता हैं। अगर आप इसे जिम (gym) जाने से पहले या एक्सरसाइज (Exercise) से पहले पीते हैं, तो शरीर को पर्याप्त ऊर्जा मिलती है और बेहतर तरीके से वर्कआउट कर पाते हैं। वहीं, एक्सरसाइज करने के बाद पीने से शरीर को ऊर्जा मिलने के साथ-साथ शरीर को हाइड्रेट भी रखता है।
  3. भोजन से पहले व बाद में : नारियल पानी पीने से पेट भरा हुआ लगता है। इसलिए, अगर कोई वजन घटाना चाहता हैं, तो इसे भोजन से तुरंत पहले पिएं, ताकि कम भूख लगे। वहीं, नारियल पानी भोजन के बाद पीने से पाचन तंत्र बेहतर होता है और भोजन को पचाने में आसानी होती है।
  4. सोने से पहले : इसे सोने से पहले पीना भी लाभदायक माना गया है।
  5. मॉकटेल : नारियल पानी को दूसरे ड्रिंक्स के साथ मिक्स करके मॉकटेल भी बना सकते हैं। इससे आपको नारियल पानी के पोषक तत्व भी मिल जाएंगे और मॉकटेल का नया टेस्ट भी बन जाएगा।
  6. सर्दियों में : कुछ लोग नारियल पानी का सेवन सिर्फ गर्मियों में ही करते हैं, लेकिन ध्यान रहे कि सर्दियों में नारियल पानी के लाभ भी उतने ही होते हैं, जितने गर्मियों में होते है।

नारियल पानी के नुकसान – Coconut Water (Nariyal pani) Side Effects in Hindi

नारियल पानी का अधिक सेवन करने से शरीर को कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। जो इस प्रकार है :

  1. नारियल पानी पीने से कुछ लोगों को एलर्जी भी हो सकती है।
  2. नारियल पानी से शरीर में पानी की अधिकता हो जाती है ऐसे में पेट की समस्या वाले लोगों को लूज़-मोशन हो सकते हैं। इसलिए सीमित मात्रा में ही नारियल पानी पीना चाहिए।
  3. जिन लोगों में ठंड की प्रवृति होती है उन्हें ज्यादा नारियल पानी नहीं पीना चाहिए। क्योंकि नारियल पानी की तासीर ठंडी होती है इससे आपको परेशानी हो सकती है।
  4. अगर आपने किसी तरह की सर्जरी करवाई है तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही नारियल पानी पिएं। सर्जरी के तुरंत बाद नारियल पानी पीने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मुश्किल आ सकती है।
  5. नारियल पानी के नुकसान में डायबिटीज का स्तर बढ़ना भी शामिल हो सकता है। क्योंकि इसमें शुगर होता है। ऐसे में अगर मधुमेह रोगी इसका अधिक सेवन करते हैं, तो उनका शुगर लेवल बढ़ सकता है।
  6. कई लोग एक्सरसाइज के बाद नारियल पानी पीते हैं। लेकिन नारियल पानी में सोडियम की मात्रा कम होती है नारियल पानी पीने से प्यास तो बुझ जाती है लेकिन नारियल पानी पीने की बजाय आपको नॉर्मल पानी पीना चाहिए। सादे पानी में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है।

उम्मीद है कि इस आर्टिकल में बताए गए नारियल पानी पीने के फायदे आपको पसंद आए होंगे। और ये फायदे अपने दोस्तों और परिवार को भी बताएं ताकि वो भी इन सभी फ़ायदों को जान सके।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *