बादाम खाने के फायदे और नुकसान – Benefits of Almond

Benefits of Almond

बादाम (Almonds) विटामिन, खनिज, प्रोटीन और फाइबर से भरे होते हैं, और कई स्वास्थ्य लाभों से जुड़े होते हैं। बस एक मुट्ठी बादाम हमारे दैनिक प्रोटीन की जरूरत का आठवें हिस्‍से की भरपाई करता है। बादाम को सामान्‍य तरीके से भी खाया जा सकता है। इसके अलावा आप इसे भिगोकर, दूध में डालकर और अन्‍य खाद्य पदार्थों के साथ इसका सेवन कर सकते हैं। हमारे बड़े-बुजुर्ग भी प्रतिदिन बादाम खाने की सलाह देते हैं। उनके अनुसार, बादाम खाने से याददाश्त तेज होती है और कई प्रकार की शारीरिक व मानसिक समस्या के लक्षण दूर हो सकते हैं। तो चलिए बादाम के फायदे (Benefits of Almond) विस्तार से जानते है।  

बादाम (Almond) खाने के फायदे – Benefits of Almond

बादाम (Almonds) विटामिन, खनिज, प्रोटीन और फाइबर से भरे होते हैं, और कई स्वास्थ्य लाभों से जुड़े होते हैं। तो चलिए बादाम के फायदे (Benefits of Almond) जानते है।

1. स्वस्थ हृदय के लिए

बादाम आपके दिल को सेहतमंद बनाये रखने का काम करता है। शोधों में यह बात सामने आयी है कि सप्‍ताह में पांच दिन बादाम का सेवन करने वाले लोगों में सामान्‍य लोगों की अपेक्षा हृदयाघात का खतरा 50 फीसदी तक कम होता है। बादाम में मौजूद विटामिन ई, एण्टीआक्सीडेंट की तरह काम करता है। यह दिल की बीमारियों को दूर रख उसे बेहतर तरीके से काम करने में मदद करता है। 

2. तनाव दूर करने में फायदेमंद

stress

बादाम में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट तत्व की मात्रा पाई जाती है, अगर आप रोज़ बादाम खाते हैं तो यह आपके स्ट्रेस लेवल को काफी कम कर देता है। अगर आपको अपनी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी में दिमागी टेंशन ज़्यादा रहती है तब आप रोज़ाना बादाम खाना चालू कर दें। लेकिन एक बात याद रहे ज़्यादा Almond Benefits पाने के चक्कर में आपको हद से ज़्यादा बादाम भी नहीं खाने; हैं। क्योंकि किसी भी अच्छी चीज का सीमित मात्रा से ज़्यादा सेवन नुकसानदायक हो सकता है।

3. याद्दाश्त बढ़ाने में फायदेमंद

स्‍मरण शक्ति को अच्‍छा बनाये रखने के लिए बादाम को काफी उपयोगी माना जाता है। बादाम का सेवन अल्‍जाइमर और अन्‍य मस्तिष्‍क संबंधी रोगों को दूर करने में मदद करता है। रोजाना सुबह पांच बादाम भिगोकर खाने से दिमाग तेज होता है। क्योंकि इसमें पाए जाने वाले टोकोफेरोल, फोलेट, मोनो व पॉली अनसैचुरेटेड फैटी एसिड और पॉलीफेनोल्स मददगार हो सकते हैं। ये पोषक तत्व उम्र से संबंधित कॉगनिटिव डिस्फंक्शन (याददाश्त कमजोर होना) को रोकने का काम कर सकते हैं।

4. आंखों के लिए फायदेमंद

बढ़ती उम्र के साथ-साथ आंखें भी कमजोर होने लगती हैं। ऐसे में आंखों की कमजोरी दूर करने के उपाय में बादाम के फायदे हो सकते हैं। दरअसल, बादाम में विटामिन ई और जिंक की भरपूर मात्रा पाई जाती है। ये पोषक तत्व आंखों से जुड़ी बीमारी एज रिलेटेड मैक्युलर डीजेनेरेशन को दूर रखने का काम कर सकते हैं। साथ ही बादाम में जिंक होता है, जो रेटिना को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी माना जाता है। इसी वजह से कहा जा सकता है कि बादाम के फायदे आंखों के लिए हो सकते हैं।

5. प्रतिरोधक क्षमता में फायदेमंद

Immunity

रोजमर्रा की छोटी मोटी बीमारी जैसे सर्दी जुखाम, खांसी, viral फीवर से बचने के लिए आपको बादाम खाना शुरू करना चाइये| बादाम खाने से हमारे शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढती है जिससे ये छोटी छोटी बीमारी जल्दी हमारे शरीर पर अपना असर नहीं दिखा पाती| अगर आपको कफ हो गया है तो गर्म दूध में कुछ बूँदें बादाम के तेल की डालें और इसे पीयें, कफ़ की समस्या दूर हो जाएगी|

इसे भी पढे – How to boost Immunity System – इम्यूनिटी सिस्टम कैसे बढ़ाए

6. सिर की त्‍वचा के लिए फायदेमंद

धूल, मिट्टी और गर्मी से हमारे सिर की त्‍वचा पर काफी गंदगी जमा हो जाती है। इसके साथ ही बालों को संवारने में इस्‍तेमाल होने वाले उत्‍पाद भी उसकी सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं। बादाम का तेल बालों की जड़ों में गहरा समाकर सिर की त्‍वचा की कोशिकाओं को नरम बनाता है जिससे उन्‍हें भरपूर पोषण मिल जाता है।

7. पाचन के लिए फायदेमंद

बताया जाता है कि बादाम का सेवन करने से पाचन को बेहतर किया जा सकता है। एक रिसर्च पेपर के अनुसार, बादाम और बादाम की स्किन में फाइबर और प्रीबायोटिक्स होते हैं। यह आंत में माइक्रोबायोटा प्रोफाइल और आंतों के बैक्टीरिया की गतिविधियों में सुधार कर सकता है। इससे स्वास्थ्य पर लाभकारी प्रभाव पड़ता है और हानिकारक चीजों से बचाव हो सकता है। इन लाभकारी प्रभाव में से एक पाचन भी है।

8. डायबिटीज से बचाये

शोध में यह बात सामने आयी है कि बादाम में मौजूद तत्‍व भोजन के बाद बढ़ने वाली रक्‍त शर्करा के स्‍तर को कम करने में मदद करते हैं। इससे शरीर में ब्‍लड शुगर का स्‍तर सामान्‍य बना रहता है। नियमित रूप से बादाम का सेवन करने से शरीर को डायबिटीज से लड़ने में मदद मिलती है।

9. वजन कम करने के लिए फायदेमंद

अक्सर जो लोग वजन कम करने के पीछे परेशान रहते हैं बादाम का सेवन करना उनके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। हाई फैट होने के बाद भी बादाम वजन घटाने के लिए बेस्ट माना जाता है। इसे खाने से मेटाबॉलिज्म भी फास्ट होता है।

बादाम में मौजूद मोनोसेच्युरेटेड फैट आपकी भूख को रोकने और पेट को लंबे समय तक भरे रहने का एहसास दिलाता है। जिससे आपको भूख नहीं लगती और आप कम खाते हैं। बादाम में कई प्रकार के पोषक  तत्‍व होते हैं जो इन कार्ब्स की क्रेविंग (Craving) को कम करने में मदद करते हैं।

इससे आपका  मन कार्ब्‍स खाने को नहीं करता और आप अपना वेट कम कम कर पाते हैं। लो कैलोरी डाइट (Low-Calorie Diet) के साथ 84 ग्राम बादाम खाने से कॉम्प्लेक्स कार्ब (Complex Carbohydrates) डाइट की अपेक्षा 62% जल्दी वजन कम हुआ।

वहीं एक अन्‍य रिसर्च में 100 ओवरवेट महिलाओं में अखरोट की अपेक्षा बादाम खाने वाली महिलाओं का अधिक वजन कम हुआ था। साथ ही साथ उनकी कमर के साइज (Waist Circumference) के साथ ही पूरी बॉडी में भी काफी अंतर देखा गया था।

इसे भी पढे – वज़न घटाने के लिए 10 एक्‍सरसाइज – Exercise For Weight Loss

10. त्वचा के लिए फायदेमंद

glowing skin

त्वचा को स्वस्थ रखने में भी बादाम के गुण महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। बादाम का तेल बेहतरीन माश्‍चराइजर है। इसमें ऑलिन ग्‍लासेराइड एसिड होता है। जो एक्‍ने, ब्‍लैकहैड्स को दूर करता है साथ ही शुष्‍क त्‍वचा से भी निजात दिलाता है।

इसमें विटमिन ई भी होता है, जो स्‍वस्‍थ त्‍वचा के लिए जरूरी माना जाता है। यह त्‍वचा पर चमक लाने का काम करता है। इसके साथ ही छोटे बच्‍चों की मालिश के लिए भी बादाम का इस्‍तेमाल किया जाता है, जिससे उनकी हड्डियां मजबूत बनती हैं।

11. बालों के लिए फायदेमंद

hair

बादाम के फायदे में बालों को स्वस्थ और लंबा बनाना भी शामिल है। एक रिसर्च पेपर के अनुसार, बादाम में मौजूद प्रोटीन, विटामिन और टोकोफेरोल बालों के विकास को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका भी निभा सकते हैं। साथ ही बादाम के तेल के इस्तेमाल से बालों को उचित पोषण मिलता है,

जिससे बाल मुलायम और मजबूत बन सकते हैं। साथ ही यह एक क्लींजिंग एजेंट के रूप में भी काम कर सकता है। यही नहीं, बाल झड़ने की समस्या से परेशान लोगों के लिए भी बादाम फायदेमंद साबित हो सकता है।

दरअसल, आमतौर पर शरीर में बायोटिन (एक तरह के विटामिन) की कमी होने से बालों के पतले और झड़ने की समस्या शुरू होती है। ऐसे में बादाम में मौजूद बायोटिन इसके स्तर को कुछ बेहतर करके बालों को झड़ने से रोक सकता है।

इसे भी पढे – बालों को झड़ने से रोकने के उपाय और इलाज – How to Stop Hair Fall in Hindi

12. हड्डियां बनाये मजबूत

बादाम में कैल्शियम और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में होता है। कैल्शियम और मैग्नीशियम दोनों पोषक तत्व हड्डियों के लिए जरूरी होते है। इसलिए बादाम का सेवन करने वालों को हड्डियों की बीमारी यानी ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा कम हो जाता है। इसके साथ ही कैल्शियम दांतों को भी मजबूत बनाने का काम करता है।

13. आंखों के लिए फायदेमंद

बढ़ती उम्र के साथ-साथ आंखें भी कमजोर होने लगती हैं। ऐसे में आंखों की कमजोरी दूर करने के उपाय में बादाम के फायदे हो सकते हैं। दरअसल, बादाम में विटामिन ई और जिंक की भरपूर मात्रा पाई जाती है। ये पोषक तत्व आंखों से जुड़ी बीमारी एज रिलेटेड मैक्युलर डीजेनेरेशन को दूर रखने का काम कर सकते हैं। साथ ही बादाम में जिंक होता है, जो रेटिना को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी माना जाता है।

 14. पोषक तत्वों से भरपूर

बादाम कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है, जो स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होते हैं। इसमें मुख्य रूप से प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, आयरन, जिंक, विटामिन-ई और फोलेट जैसे पोषक तत्व होते हैं। बादाम में इन पोषक तत्वों के अलावा भी कई न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जिन्हें हमने नीचे एक टेबल के जरिए बताया है। चलिए इन सभी न्यट्रिएंट्स के बारे में विस्तार से जानते है।

बादाम (Almond) के पौष्टिक तत्व – Almond Nutritional Value

बादाम में विभिन्न तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। इन सभी न्यूट्रिएंट्स के बारे में हम आगे टेबल के जरिए से जानकारी दे रहे हैं।

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 G
पानी4.41 g
ऊर्जा579 kcal
प्रोटीन21.15 g
टोटल लिपिड (फैट)49.93 g
कार्बोहाइड्रेट21.55 g
फाइबर12.5 g
टोटल शुगर4.35 g
मिनरल्स
कैल्शियम, Ca269 gm
आयरन, Fe3.71 gm
मैग्नीशियम , Mg270 gm
फास्फोरस, P481 gm
पोटैशियम, K733 gm
सोडियम, Na1 mg
जिंक, Zn3.12 mg
विटामिन्स
थाइमिन0.205 mg
राइबोफ्लेविन1.138 mg
नियासिन3.618 mg
विटामिन बी -60.137 mg
फोलेट DFE44 µg
विटामिन ई (अल्फा-टोकोफेरॉल)25.63 mg
लिपिड
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड3.802 g
फैटी एसिड, टोटल मोनोसैचुरेटेड31.551 g
फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड12.329 g

बादाम (Almond) खाने का तरीका – How to Eat Almond

अगर बादाम खाने के एक ही तरीके से ऊब गए है, तो आगे जाने इसे खाने के अलग-अलग तरीकों के बारे में।

बादाम कैसे खाएं
  1. बादाम को ऐसे ही साबूत खाया जा सकता है।
  2. इसे चॉकलेट में भी उपयोग किया जा सकता है।
  3. बनाना या मैंगो शेक में भी बादाम का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  4. बादाम को रातभर पानी में भिगोकर अगली सुबह इसे छिलके उतारकर खाया जा सकता है।
  5. चिवड़ा में मिलाकर बादाम को खा सकते हैं।
  6. केक में बादाम का उपयोग करके खाया जा सकता है।
  7. कॉर्नफ्लेक्स या फ्रूट सलाद में बादाम के टुकड़े को डालकर खा सकते हैं।
  8. बादाम का हलवा बनाकर खा सकते हैं।
  9. बादाम का सेवन मिल्क शेक में मिक्स करके किया जा सकता है।
  10. कई मिठाइयों में भी बादाम का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  11. बादाम पाउडर को सादा या दूध में मिलाकर भी बादाम का सेवन किया जा सकता है।
  12. आलमंड से बना बादाम मिल्क भी आप पी सकते हैं।
बादाम कब खाएं
  1. सुबह या शाम को व्यायाम के बाद कुछ भीगे हुए बादाम खाए जा सकते हैं।
  2. इससे बने चॉकलेट या केक को दिन में किसी भी समय खाया जा सकता है।
  3. शाम को बादाम मिल्क शेक पी सकते हैं।
बादाम कितना खाएं

प्रतिदिन 56 ग्राम तक बादाम खाने की मात्रा को सुरक्षित माना जाता है। वैसे हर किसी की आहार क्षमता एक जैसा नहीं होती है, इसलिए एक बार आहार विशेषज्ञ की सलाह भी ले सकते हैं।

बादाम (Almond) के नुकसान – Side Effects of Almond

Benefits of Almond
  1. गर्भवतियों को स्वास्थ्य संबंधी जटिलताएं हैं, तो बादाम के सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह लें।
  2. अध्ययनों से पता चलता है कि बादाम में ऑक्सालेट कंपाउंड होता है, जिससे गुर्दे में पथरी (किडनी स्टोन) का जोखिम बढ़ सकता है।
  3. बादाम में फाइबर होता है। ऐसे में इसकी अधिकता होने पर पेट में गैस (पेट फूलना), सूजन और ऐंठन जैसी समस्या हो सकती है।
  4. कुछ लोगों को बादाम का सेवन करने से फूड एलर्जी हो सकती है।
  5. स्वाद में कड़वे बादाम के नुकसान भी हैं। इससे शरीर में साइनाइड विषाक्तता हो सकती है।

इस आर्टिकल से आपको यह बात तो समझ आ ही गई होगी कि बादाम के सेवन से शरीर को जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं। इसमें लगभग सभी तरह के न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो व्यक्ति को स्वस्थ रखने में अहम भूमिका निभाते हैं। शायद इसी वजह से बादाम को कई रोगों से बचाव का एक अच्छा तरीका माना जाता है। बस ध्यान रहे कि अगर कोई गंभीर रूप से बीमार है, तो सिर्फ बादाम पर निर्भर रहना ठीक नहीं है। उसके लिए डॉक्टरी सलाह जरूर लें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *