लौकी और लौकी के जूस के फायदे और नुकसान – Bottle Gourd Benefits in Hindi

Bottle Gourd Benefits in Hindi

हेल्दी सब्जियों की बात करें तो लौकी को कैसे भूल सकते है। लौकी में कई ऐसे विटामिन और मिनरल्स पाए जाते है। जो सेहत के लिए फायदेमंद होते है। इसलिए लौकी को हेल्दी सब्जियों में शामिल किया जाता है। लौकी में पानी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, इसलिए इसका जूस भी बहुत फायदेमंद होता है।

लौकी अलग अलग आकार में भी पाया जाता है, जैसे — गोल, लंबा , बड़े और छोटे आकार के भी हो सकते है। लौकी कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने में भी फायदेमंद साबित हो सकता है। आज के इस आर्टिकल में लौकी के फायदे (Lauki ke fayde) , लौकी के नुकसान (Lauki ke Nuksan) और लौकी का जूस बनाने का तरीका क्या है? ये सभी बातें विस्तार से करेंगे।

लौकी के फायदे – Bottle Gourd Benefits in Hindi

विटामिन और मिनरल्स से भरपूर लौकी के अनेकों फायदे (Lauki ke fayde) है, उनमें से ही कुछ फ़ायदों का जिक्र यहाँ किया गया है, जो इस प्रकार है।

1. पाचन क्रिया में फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits in Digation in Hindi

Digestion

लौकी पाचन क्रिया को स्वस्थ बनाए रखने में फायदेमंद है। लौकी में फायबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो भोजन पचाने में मदद करता है। लौकी में कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बहुत कम पाई जाती है। और वहीं पानी की मात्रा ज्यादा होती है और यह आसानी से डाइजेस्ट हो सकती है।

इसलिए पेट संबंधी समस्या होने पर लौकी या लौकी के जूस का सेवन किया जा सकता है। लौकी का जूस शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है। लेकिन ध्यान रहे कोई भी गंभीर पेट संबंधी समस्या होने पर डॉक्टरी इलाज जरूर कराएं।

2. कैंसर में फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits in Cancer in Hindi

लौकी में पाए जाने वाले गुण कैंसर में भी फायदेमंद साबित हो सकते है। एक रिसर्च के मुताबिक, लौकी में कीमोप्रीवेंटिव (कैंसर को दूर रखने वाला कारक) प्रभाव होता है, जो कैंसर को दूर रखने में मदद करता है। लौकी के जूस का इस्तेमाल त्वचा के कैंसर को भी दूर रखने में मदद कर सकता है।

3. त्वचा के लिए फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Skin in Hindi

glowing skin

लौकी में पाए जाने वाले एंटीबैक्टीरियल गुण त्वचा संबंधित समस्याओं को दूर करने में फायदेमंद साबित हो सकते है। लौकी में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव त्वचा को चमकदार बनाने में भी फायदेमंद होते हैं। ऐसा मना जाता है

कि लौकी का जूस त्वचा को यंग बनाए रखने में मदद करता है। लौकी का जूस अंदरुनी सफाई करके खराब बैक्टीरिया को दूर करता है। और चेहरे पर मौजूद दाग धब्बों को दूर करने में मदद करता है। और त्वचा को चमकदार बनाता है।

4. बालों के लिए फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Hairs in Hindi

hair

लौकी के गुण बालों के लिए भी फायदेमंद साबित हो सकते है। साथ ही, गंजेपन की समस्या को भी दूर किया जा सकता है उसके लिए आपको लौकी के रस को तिल के तेल के साथ इस्तेमाल करना होगा। दरअसल, अभी इस टॉपिक पर और रिसर्च की आवश्यकता है।

5. वजन कम करने के लिए फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Weight Loss in Hindi

reduce weight

लौकी या लौकी का जूस वजन कम मे फायदेमंद साबित हो सकते है। लौकी में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है और लौकी में वसा की मात्रा बहुत ही कम होती है, जो खाने को पचाने और शरीर में ऊर्जा को बनाए रखने का काम करते हैं। जिससे भूख कम लगती है, और जिस कारण आपका वजन कम हो सकता है। इसके साथ ही व्यायाम को भी अपनी डेली लाइफ में जरूर शामिल करें।

6. ह्रदय के लिए फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Heart in Hindi

लौकी को ह्रदय के लिए आयुर्वेद और वैकल्पिक चिकित्सा के रूप में उपयोग किया जा सकता है। लौकी के इस्तेमाल से आपके रक्त लिपिड का स्तर संतुलित हो सकता है, जो दिल के लिए फायदेमंद होता है। इसमें एंटीहाइपरलिपिडेमिया, एंटीहाइपरग्लाइसेमिक और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो शरीर को फायदा पहुंचाने का काम कर सकते हैं। लौकी के जूस का सेवन सुबह खाली पेट फायदेमंद साबित हो सकता है।

7. कोलेस्ट्रॉल के लिए फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Cholesterol in Hindi

लौकी में कोलेस्ट्रॉल को कम करने वाले गुण भी मौजूद हैं। एक रिसर्च के मुताबिक, लौकी में फैट और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा न के बराबर होती है। रोजाना लौकी का जूस पीने से रक्त में ट्राइग्लिसराइड्स (एक तरह का वसा या लिपिड) और कुल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में फायदेमंद साबित होता है।

8. मधुमेह के लिए फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Diabetes in Hindi

लौकी का इस्तेमाल मधुमेह के इलाज के लिए किया जाता है। लौकी में ऐसे एंटी डायबिटीज गुण पाए जाते है, जो रक्त में ग्लूकोज को कम करने में मदद करते है। वहीं, लौकी इंसुलिन सीरम को बढ़ाने में भी सहायता करती है। इससे मधुमेह को दूर रखने में बहुत मदद मिलती है।

9. रक्तचाप के लिए लौकी के फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Blood Pressure in Hindi

रोजाना लौकी के जूस का सेवन करने से रक्तचाप की समस्या को दूर किया जा सकता है। दरअसल, लौकी के जूस में पोटैशियम पाया जाता है, जो रक्तचाप को कंट्रोल करने में मदद करता है।

10. इम्युनिटी के लिए फायदेमंद – Bottle Gourd Benefits for Immunity n Hindi

Immunity

लौकी का जूस आपकी इम्युनिटी को स्ट्रॉंग बनाने में मदद कर सकता हैं। लौकी के जूस में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, पॉलीफेनॉल्स और फाइटोन्यट्रिएंट्स के कारण इस्ते लाभ और ज्यादा बढ़ जाते हैं। लौकी जूस बेनिफिट (Lauki juice benefits) फ्री रेडिकल से लड़ने में मदद करते हैं। और कई बीमारियों से दूर रखते है।

लौकी के पौष्टिक तत्व – Bottle Gourd Nutritional Value

लौकी में पाए जाने वाले पोषक तत्व कुछ इस प्रकार है –

पोषक तत्वमात्रा प्रति 116 GM
ऊर्जा16 kcal
कुल कार्ब्स4 gm
फैट0.1 gm
कोलेस्ट्रॉल0 gm
विटामिन ए2 ।U
विटामिन बी 10.02 mg
विटामिन बी 20.03 mg
विटामिन बी 30.35 mg
विटामिन सी12  mg
पोटैशियम 101 mg
सोडियम1 mg
कैल्शियम30 mg
आयरन0.23 mg
फास्फोरस15 mg

लौकी का उपयोग – Uses of Bottle Gourd

हम आपको बताते है कि लौकी का उपयोग कैसे करें?

  • आप लौकी की सब्जी बनाकर खा सकते है।
  • लौकी का जूस निकाल कर पी सकते है।
  • लौकी का हलवा बनाकर खा सकते है।
  • आप लौकी की अन्य रेसीपीस बना सकते है।
लौकी का उपयोग कब करें?
  • लौकी की सब्जी को दोपहर में या रात में बनाकर खा सकते है।
  • सुबह के समय लौकी का जूस पीना ज्यादा फायदेमंद होता है।
लौकी का उपयोग कितना करें ?
  • रोजाना 1 गिलास लौकी का जूस पी सकते है।
  • दिन में 1 कप के बराबर लौकी की सब्जी खाई जा सकती है।

घर में लौकी का जूस बनाने का तरीका – Method of Bottle Gourd Juice in Hindi

Bottle Gourd Benefits in Hindi

हम यहाँ पर आपको घरेलू तरीके से लौकी का जूस बनाने का तरीका बताएंगे।

सामग्री :
  • 2 मध्यम आकर की लौकी
  • 1 बड़ा चम्मच जीरा
  • 15 से 20 पुदीने की पत्तियां
  • नींबू का रस 2 से 3 बड़े चम्मच
  • अदरक के 2 छोटे टुकड़े
  • नमक आवश्यकतानुसार
लौकी का जूस बनाने का तरीका :
  • सबसे पहले लौकी और अदरक को अच्छे से धोकर छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • उसके बाद सभी कटी हुई सामग्रियों को पुदीने व नमक के साथ मिक्सर में डालकर जूस बना लें।
  • और जूस के ऊपर से नींबू की कुछ बूंदें डालकर मिक्स कर दें।
  • और अब आपका जूस पूरी तरह पीने के लिए तैयार है।

नोट : ध्यान रहे कि हमेशा ताजी लौकी का जूस ही पीएं। जूस के लिए ताजी लौकी ही खरीदें। और यदि लौकी में थोड़ी सी भी कड़वाहट हो तो उसे उपयोग न करें। बेहतर होगा कि लौकी को पहले ही हल्का सा टेस्ट कर लें।

लौकी के नुकसान – Lauki ke Nuksan

दोस्तों अगर लौकी के फायदे है, तो कुछ नुकसान भी है।

  • ऐसा माना जाता है कि गर्भावस्था के समय लौकी का कड़वा जूस भ्रूण और गर्भवती महिला के लिए हानिकारक हो सकता है।
  • साथ ही, स्तनपान कराने वाली महिलायें लौकी के कड़वे जूस का सेवन करने से बचे।
  • लौकी का जूस बनाने के बाद इसे चखे, यदि जूस कड़वा हो तो जूस का सेवन न करें, क्योंकि इस जूस से आपके शरीर को नुकसान पहुंच सकता है।

छोटी सी लौकी और इतने सारे फायदे मानना पड़ेगा और आशा करते है की आपको भी लौकी के फायदे अच्छे से समझ में आ गए होंगे। तो देर किस बात की आज से ही लौकी को अपनी दिनचर्या में शामिल करें। और इस आर्टिकल को अन्य लोगों के साथ भी शेयर करे। ताकि उन्हे भी ये जानकारी मिल सकें। और वो भी लौकी के फ़ायदों का लाभ उठा सके। और ऐसी ही जानकारी के लिए हिन्दीहेल्थगाइड (HindiHealthGuide) से जुड़े रहे। और साथ ही हमे Facebook,Youtube, Instagram और Twitter पर भी फॉलो कर सकते है।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल – FAQ

Q. 1 : क्या लौकी खाने के नुकसान होते है ?

Ans : हाँ, लौकी खाने क कुछ नुकसान भी हो सकते है, जो ऊपर बताए गए है।

Q. 2 : लौकी के फायदे कौन कौन से हैं ?

Ans : लौकी खाने के फ़ायदों के बारे में ऊपर विस्तार से बताया गया है।

Q.3 : क्या लौकी के छिलकों का इस्तेमाल किया जा सकता है ?

Ans : हां, लौकी के छिलकों का इस्तेमाल मुहांसों के लिए किया जा सकता हैं।

Q. 4 : लौकी का जूस एसिडिटी के लिए अच्छा है?

लौकी के जूस को स्वस्थ डाइजेशन और पेट के लिए जाना जाता है। लौकी का जूस पीने से गैस, कब्ज जैसी समस्याओं से राहत मिलने में मदद मिलती है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *