HindiHealthGuide

मॉर्निंग वॉक (सुबह की सैर) करने के 20 फायदे – Morning walk Benefits

Morning walk Benefits

आपने हर तीसरे व्यक्ति से ये कहते हुए सुना होगा की घुमना और पैदल चलना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। उसमें भी बात सुबह की सैर की हो रही हो तो ये किसी वरदान से कम नहीं है।

रोज़ाना सुबह सैर करने से पूरा दिन तरोताज़ा बितता है। इतना ही नहीं ये बहुत सारी बीमारियों से लड़ने की शक्ति भी प्रदान करता है। क्योंकि स्वच्छ हवा जो हमें दैनिक जीवन की भागदौड़ में नहीं मिल पाता है।

वो सुबह की सैर में मिल जाता है। आजकल इस प्रदूषण भरे वातावरण में तो सांस लेना भी मुश्किल है। और ऐसे में अगर आप शारीरिक रूप से कोई गतिविधि नहीं करते हैं।

तो ये आपके सेहत के लिए बहुत हानिकारक हो सकता है। इसलिए रोज़ाना सुबह 15 से 20 मिनट की सैर आपको जिम के फितर करने वाले घंटो मेहनत से ज़्यादा लाभ देगा।

मॉर्निंग वॉक (सुबह की सैर) करने के 20 फायदे (Morning walk Benefits) जानने से पहले! आइए, सबसे पहले यह जानते हैं कि सुबह की सैर क्यों जरूरी है?

सुबह की सैर जरूरी क्यों है?

सुबह की गई सैर मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण मानी गई है। दिन का पहला पहर सुहावना और कम प्रदूषित होता है, जो आपके मन को शांत करता है व स्फूर्ति प्रदान करता है।

पैदल चलने से आपकी शारीरिक कसरत होती है, जिससे आपको दिनभर स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। सबसे खास बात, मॉर्निंग वॉक की आदत से आपकी सुबह जल्दी उठने की इच्छाशक्ति मजबूत होती है।

मॉर्निंग वॉक के फायदे – Morning walk Benefits

आप सच में हैरान रह जाएंगे कि सिर्फ आधे घंटे की मॉर्निंग वॉक आपके अंदर ताजगी भर देगी। साथ ही मधुमेह और हृदय रोग जैसी गंभीर बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

स्टाइलक्रेज के इस खास लेख में हम आपको सुबह की नियमित सैर के कई फायदे बता रहे हैं। और आप मॉर्निंग वॉक के फायदे (Morning walk Benefits) जाने और वॉक करना शुरू करें।

1. डिप्रेशन (depression)

डिप्रेशन एक ऐसी समस्या है, जो किसी भी व्यक्ति को आसानी से हो सकता है। ज़्यादा स्ट्रेस और काम कि टेंशन के कारण व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो जाता है।

इससे बचने के लिए रोज़ाना 20 से 25 मिनट तक खुली हवा में सैर करें। ये आपको तनाव मुक्त बनाता है। और सुबह की सैर करते हैं तो आपका पूरा दिन ताज़गी भरा होगा।

2. हृदय रोग से बचाव

मॉर्निंग वॉक का सबसे बड़ा फायदा हृदय का ध्यान रखना भी है। सुबह की नियमित सैर आपको मजबूत बनाती है, जिससे आपको हृदय से जुड़े रोगों से लड़ने में मदद मिलती है।

हृदय की बीमारी से जूझ रहे मरीजों के लिए सुबह की सैर अच्छा विकल्प हो सकता है। शोध से पता चलता है कि मात्र चलने से हृदय संबंधी जोखिम 31 प्रतिशत और इससे मरने का जोखिम 32 प्रतिशत तक कम हो सकता है।

यह लाभ पुरुष और महिलाओं दोनों पर लागू होता है। हृदय स्वास्थ्य को बरकरार रखने के लिए आप रोज सुबह की सैर का आनंद ले सकते हैं।

3. मधुमेह नियंत्रण (Diabetes control)

Morning walk Benefits

मधुमेह अनियंत्रित जीवनशैली के कारण होनी वाली आम बीमारियों में से एक है। वहीं, अगर आप सुबह घूमने जाते हैं, तो आप इस समस्या को कुछ हद तक कम कर सकते हैं।

शोध के अनुसार, सुबह 30 मिनट की सैर ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के साथ-साथ टाइप-2 डायबिटीज से निजात दिलाने में मदद कर सकती है ।

4. कैंसर से बचाव (Cancer)

सुबह कम से कम 45 मिनट सैर करना कैंसर के मरीजों के लिए बहुत लाभदायक है। वैज्ञानिकों का कहना है कि जो कैंसर पीड़ित लोग सुबह घूमने जाते हैं

उनकी सेहत दूसरे मरीजों की तुलना में अच्छी रहती है। महिलाओं में स्तन कैंसर (Breast Cancer) की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है।

5. मस्तिष्क की कार्यक्षमता बढ़ती है (Increases brain function)

brain

मस्तिष्क की कार्यप्रणाली के लिए भी सुबह की सैर जरूरी है। नियमित व्यायाम जैसे मॉर्निंग वॉक आपकी याददाश्त को बढ़ा सकता है और मस्तिष्क की कार्यक्षमता को बेहतर कर सकता है ।

जब आप चलते हैं, तो मस्तिष्क को पर्याप्त ऑक्सीजन मिलती है और रक्त की आपूर्ति (Supply) में तेजी आती है, जिससे याददाश्त मजबूत होती है ।

6. वजन घटाने में मदद (weight loss)

how to weight loss

कुछ लोग जो मोटापे से परेशान हैं और वजन कम करना चाहते हैं उनके लिए ये सबसे आसान दवा है। सुबह दौड़ने से शरीर में कैलोरी की मात्रा कंट्रोल में रहती है।

और वजन तेजी से घटाया जा सकता है। और जो लोग वजन बढ़ाना चाहते हैं तो उनके लिए भी सुबह की स्वच्छ हवा में दौड़ना बहुत फायदेमंद है।

7. इम्यून सिस्टम मजबूत होता है (strong Immune system)

Immunity

रोजाना घूमने से आपके शरीर की प्रतिरक्षा शक्ति बढ जाती है। हाल ही के अध्ययनों से पता चला है कि रोजाना सैर पर जाने से आपके शरीर में एक साल में होने वाले बुखारों की संख्या काफी हद तक कम हो जाती है।

डॉक्टरों का मानना है कि नियमित व्यायाम करनें से आपके शरीर की प्रतिरक्षा शक्ति बढ जाती है। इससे आपके शरीर की कोशिकाएं भी मजबूत बनती है।

जिससे किसी भी प्रकार का जीवाणु आपके शरीर में घुस नही पाता। इसलिए आपको नियमित रूप से सुबह सुबह सैर पर चाहिये।

8. थकान से राहत (Fatigue relief)

tired

सुबह की सैर से आपकी थकान दूर होती है और आप दिनभर खुद को तरोताजा महसूस कर सकते हैं। सुबह की ताजी हवा शरीर में स्फूर्ति प्रदान करने का काम करती है।

और आपको ऊर्जावान बनाती है। यहां तक कि मॉर्निंग वॉक कैंसर के मरीजों में भी थकान को दूर करने का काम करती है ।

9. फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है (Increases lung function)

रोजाना 20 मिनट मॉर्निंग वॉक करने से आपके फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ सकती है । सुबह की सैर आपके फेफड़ों को मजबूत करने का काम करती है,

जिससे फेफड़े स्वस्थ रहते हैं और सांस लेने में आसानी होती है। फेफड़ों के स्वास्थ्य के लिए सुबह की सैर एक प्रभावी विकल्प है।

10. तनाव से छुटकारा (stress)

stress

सुबह या शाम की सैर एंडोरफिंस नामक न्यूरोपेप्टाइड्स को सक्रिय करती है। इससे शरीर को आराम मिलता है, बेचैनी और चिड़चिड़ेपन जैसे लक्षणों में भी सुधार होता है।

विशेषज्ञ सेहत में सुधार के लिए प्रतिदिन 6000 कदम और वजन कम करने के लिए 10,000 कदम चलने की सलाह देते हैं।

साल 2000 में किए गए एक शोध के नतीजे बताते हैं कि नियमित रूप से सैर करना प्रति वर्ष सेहत पर किए जाने वाले खर्च का 330 डॉलर यानी लगभग 20 हजार रुपये बचा सकता है।

यह भी दिलचस्प है 1970 में 66 प्रतिशत बच्चे पैदल स्कूल जाते हैं जबकि आज के समय में यह आंकड़ा सिर्फ 13 प्रतिशत है।

ऑस्ट्रेलिया का एक व्यक्ति प्रति दिन 9,695 कदम चलता है, जबकि जापान में एक व्यक्ति द्वारा औसतन 7,168 कदमों की दूरी ही पैदल तय की जाती है,

वहीं एक अमेरिकी व्यक्ति एक दिन में औसतन सिर्फ 5,117 कदम चलता है। पैदल चलने के चलन का कम होना शोधकर्ताओं की नजर में एक सांस्कृतिक दुघर्टना भी है, क्योंकि अब लोग पैदल चलने को मजबूरी समझते हैं।

11. ऊर्जावान शरीर (Energy Full body)

energy

मॉर्निंग वॉक से शरीर में एनर्जी आती है। आपने देखा भी होगा, जो लोग वॉक करने जाते हैं वे लोग दिनभर एक्टिव रहते हैं। इस पर कई स्टडीज भी हुई हैं।

एक स्टडी के मुताबिक जो यंगस्टर्स 20 मिनट आउटडोर वॉक के लिए गए थे, उन्होंने घर के अंदर 20 मिनट वॉक करने की अपेक्षा अधिक एनर्जेटिक महसूस किया।

आप सुबह वॉक करते हैं तो शरीर के सिस्टम को तेजी से एक्टिव कर रहे होते हैं। इससे पल्स रेट तेजी से बढ़ती है और पसीना निकलना शुरू हो जाता है। इस तरह एनर्जी बढ़ने लगती है और आप दिनभर बिना थके काम कर सकते हैं।

12. कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है। (Cholesterol control)

स्वास्थ्य रहने और सेल्स मेमब्रेन के निर्माण के लिए शरीर को निश्चित मात्रा में कोलेस्ट्रॉल की जरूरत होती है। वहीं, रक्त लिपिड (फैट) की मात्रा अधिक होने पर दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

इस अवस्था में एलडीएल यानी खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है और एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम हो जाती है। ऐसे में अगर आप नियमित रूप से मॉर्निंग वॉक करते हैं, तो बढ़ते कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित किया जा सकता है ।

13. त्वचा की चमक (glowing skin)

glowing skin

त्वचा विशेषज्ञों का सुझाव है कि जो व्यायाम रक्त संचार को बढ़ावा देते हैं, वो चेहरे की चमक भी बढ़ाते हैं। यहां मॉर्निंग वॉक सबसे सटीक विकल्प हो सकता हैं,

क्योंकि सुबह की सैर शरीर में रक्त संचार को सुचारू रूप से चलाने में मदद करती है। फलस्वरूप, चेहरा चमकदार बना रहता है और कील-मुंहासे नहीं होते हैं। सुबह की सैर प्राकृतिक रूप से आपके चेहरे की चमक बनाए रखती है।

14. स्वस्थ बाल (healthy hair)

सुबह की सैर का एक बड़ा फायदा स्वस्थ बाल भी हैं। स्वस्थ बालों के लिए रक्त का सही संचार काफी मायने रखता है। सुबह की सैर रक्त प्रवाह को बनाए रखने में मदद करती है। इसलिए, अगर आप अपने बालों को स्वस्थ रखना चाहते हैं, तो नियमित रूप से मॉर्निंग वॉक करें।

15. रोगों से मुक्ति

मॉर्निंग वॉक आपको आंतरिक और बाहरी रूप से स्वस्थ रखने का काम करती है। सुबह लगभग 20 से 30 मिनट की भागदौड़ आपके रक्त संचार को सुचारू रूप से चलाने में मदद करती है।

शरीर के रोगों से लड़ने के लिए प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना बहुत जरूरी है। मॉर्निंग वॉक इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने का काम करती है।

सुबह की सैर आपके पाचन तंत्र, हृदय व फेफड़ों को स्वस्थ रखने का काम करती है और इनसे जुड़े रोगों से लड़ने के लिए शरीर को मजबूत बनाती है।

16. अच्छी नींद (Good sleep)

sleep

दिन भर का तनाव अक्सर आपकी नींद को छीन लेता है, जिससे शरीर को पर्याप्त आराम नहीं मिल पाता है। वहीं, अगर आप सुबह की सैर की आदत डाल लेते हैं, तो रात को अच्छी नींद का आंनद ले पाएंगे।

तनाव मुक्त रहने और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए मॉर्निंग वॉक अच्छा तरीका है। अगर आप भी रात में अच्छी नींद न आने से परेशान हैं, तो कल से ही सुबह की सैर करना शुरू कर दें ।

17. गठिया और ऑस्टियोपोरोसिस का इलाज

अनियंत्रित जीवनशैली और बढ़ती उम्र का एक नकारात्मक प्रभाव गठिया और ऑस्टियोपोरोसिस है। आपको बता दें कि ऑस्टियोपोरोसिस वह बीमारी है, जिसमें हड्डियों की गुणवत्ता और घनत्व कम होने लगता है,

जिससे चलने-फिरने में भारी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। वहीं, गठिया से पीड़ित इंसान को जोड़ों में असहनीय दर्द का सामना करना पड़ता है।

अध्ययन से पता चलता है, कि सुबह की गई नियमित सैर जोड़ों के दर्द और अकड़न से निजात दिला सकती है। सुबह की सैर हड्डियों के साथ-साथ मांसपेशियों की क्षमता को भी बढ़ाती हैं।

ऑस्टियोपोरोसिस के मरीजों के लिए सुबह की सैर फायदा पहुंचा सकती है। इसके अलावा, कुछ अध्ययन बताते हैं कि रजोनिवृत्ति के बाद जो महिलाएं रोजाना एक मील चलती हैं, उनमें हड्डियों का घनत्व रोजाना कम चलने वाली महिलाओं की तुलना में अधिक रहता है ।

18. बेहतर ज्ञान क्षमता (Better knowledge ability)

अध्ययनों के अनुसार, उम्र बढ़ने के साथ-साथ याददाश्त कम होने लगती है। यह समस्या रोजाना पैदल चलने वाली महिलाओं (65 वर्ष से अधिक) की तुलना में कम पैदल चलने वाली महिलाओं में ज्यादा पाई जाती है।

पैदल चलना उम्र-संबंधी मानसिक बीमारियों को दूर रखने का एक शानदार तरीका है। नियमित रूप से चलने और दिनभर एक्टिव रहने से वैस्कुलर डिमेंशिया (Vascular dementia) जैसी मानसिक बीमारी का जोखिम 70 प्रतिशत तक कम हो सकता है ।

19. एंटी – एजिंग से राहत (Anti-aging)

मॉर्निंग वॉक को सबसे अच्छा एंटी एंजिंग उपचार माना जाता है। अक्सर देखा गया है कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ जोड़ों में दर्द व बदन दर्द के साथ-साथ त्वचा की चमक भी खोने लगती है।

यह स्थिति उन महिलाओं में ज्यादा देखी गई है, जो व्यायाम या अन्य शारीरिक कसरत नहीं करती हैं। बढ़ती उम्र के लक्षणों को दूर करने का सबसे कारगर तरीका मॉर्निंग वॉक है ।

सुबह की नियमित सैर आपको जोड़ों के दर्द व थकावट आदि से दूर रखकर स्वस्थ बनाने का काम करेगी। साथ ही आपकी त्वचा के निखार को भी बरकरार रखेगी।

20. संपूर्ण स्वास्थ्य (Overall health)

सुबह की सैर संपूर्ण स्वास्थ्य को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करती है। यह शरीर को पूरे तरीके से फायदा पहुंचाती है। सुबह सिर्फ 20-30 मिनट की सैर आपके हृदय से लेकर त्वचा को स्वस्थ बनाने का काम करती है।

इस शारीरिक क्रिया से हड्डियों और मांसपेशियों दोनों को फायदा पहुंचता है। इसलिए, प्राकृतिक रूप से शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आज से ही मॉर्निंग वॉक का प्लान बनाएं ।

मॉर्निंग वॉक के लिए कुछ और टिप्स – Other Useful Tips for Walking in Hindi

अगर आप सुबह की सैर को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाने के बारे में सोच रहे हैं, तो यहां कुछ टिप्स बताए जा रहे हैं, जिनका पालन आप जरूर करें।

  • जॉगिंग करते वक्त अपना पोश्चर सीधा रखें, खासकर जब आप बॉडी टोन के उद्देश्य से यह शारीरिक क्रिया कर रहे हैं।
  • सुबह की सैर आपको ऊर्जावान बनाती है और शरीर में रक्त का संचार सुचारू रूप से चलाने में मदद करती है। कोशिश करें कि सूर्य की पहली किरणों के साथ सुबह की सैर करें। इससे आपके शरीर को पर्याप्त रूप में विटामिन-डी मिलेगा।
  • अगर आप शरीर से अतिरिक्त फैट कम करना चाहते हैं, तो सुबह कुछ किमी तेज दौड़ने का अभ्यास करें।
  • भोजन के तुरंत बाद व्यायाम न करें।
  • मॉर्निंग वॉक के दौरान अत्यधिक पानी न पिएं।
  • अगर आप मॉर्निंग वॉक की शुरुआत करे रहे हैं, तो पहले कुछ दिन अपनी गति को सामान्य रखें और धीरे-धीरे गति को बढ़ाएं।

सुबह की सैर दिन की शुरुआत करने का एक शानदार तरीका है। एक बार जब आप इसे अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना लेंगे, तो आप अपने में कई सकारात्मक बदलाव को देख और महसूस कर पाएंगे।

मॉर्निंग वॉक की गिनती एक संपूर्ण फिजिकल एक्टिविटी के रूप में की जाती है। शरीर को बीमारी का घर बनाने और दवाइयों का बोझ बढ़ाने से अच्छा है।

प्राकृतिक रूप से शरीर को स्वस्थ रखें। आप मॉर्निंग वॉक आज से ही शुरू करें। ताकि आपकी जो भी बीमारी हो जड़ से खत्म हो जाए।

इसे भी पढ़ेयोग क्या है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *